Ladki Patane Ki Shayari :-

प्यार ही जिंदगी है परंतु पर पाना बहुत मुस्किल है आप के समय में जल्दी प्यार नही मिलता है, इस लिए हम आप के लिए Ladki Patane Ki Shayari  लाये है , इन शायरी को सेंड कर लड़की को इम्प्रेस कर सकते हो ।

Ladki Patane Ki Shayari 2020,Ladki Ko Propose ke Liye  Shayari 2020
Ladki Patane Ki Shayari 


● मैं इस खुदा काे कैसे मानूँ
मेरी ताे मां खुदा है ...
हां पापा बहुत प्यार करते हैं
पर मां सबसे जुदा है ...

● हर पतंग जानती हैं
अंत में कचरे में ही जाना हैं
लेकिन उससे पहले हमें
आसमाँ छुके दिखाना हैं

● तू मुझे गुनाहगार साबित करने की
जहमत ना उठा।
बस इतना बता क्या-क्या कबुल करना हैं
जिससे मोहब्बत बनीं रहें।


● जो कुछ खो गया उसे भूल जाओ
ताकि जो बाकी है उसे हासिल कर सको।

● आज लाखो रुपये बेकार है
वो एक रुपये के सामने
जो माँ स्कूल जाते वक्त देती थी

● प्रेम में जबरदस्ती नही
जबरदस्त होना चाहिए ..

● दिल की तमन्ना इतनी है
कुछ ऐसा मेरा नसीब हो
मैं जहाँ जिस हाल में रहुँ
बस तू मेरे करीब हो

● इन्सान जिंदगी मे बहुत कुछ सीखता है
लेकिन जब तक दुसरो से प्यार करना
दुसरो को माफ करना और दुसरो की
इज्जत करना नही सीख जाता
समझो कुछ नही सीखा।

● ज़िंदगी में हर एक का एक सपना होता है
पर क़िस्मत का खेल देखो
वो सपना टूट जाता है
या उसे पूरा करने का समय छूट जाता है

● सब्र और सहनशीलता
कोई कमजोरियां नहीं होती है
ये तो अंदरुनी ताकत है
जो सब में नहीं होती

● जिंदगी में कुछ गहरे जख्म
कभी नहीं भरते
इन्सान बस उन्हें छुपाने का
हुनर सीख जाता है

● देखा है जिंदगी को कुछ इतने करीब से
लगने लगे हैं तमाम चेहरे अजीब से

● बचपन की सबसे बड़ी ग़लतफ़हमी ये थी कि
बड़े होते ही ज़िन्दगी मज़ेदार हो जाएगी

● हमें भी शिकायत हुआ करती थी कभी
इन दर्द भरे नगमो से
लेकिन आजकल इसमें हम भी
अपना अक्श पाते हैं

● सुलगती रेत में पानी की अब तलाश नहीं
मगर ये मैंने कब कहा के मुझे प्यास नहीं

● समझता ही नहीं वो शक्श
मेरे अल्फ़ाज़ों की गहराई।
मैने हर वो लफ्ज़ कह दिया
जिसमें दोस्ती हो।



● कितनी गजब है यह मोहब्बत।
बीच रास्ते में खो गया हूं💖
कल के चक्कर में आज अटक गया हूं

● झूम जाते हैं शायरी के लफ्ज़
बहार के पत्तों की तरह,
जब शुरू होता है
बयां ए हुस्न महबूब का मेरे.

● वो आज गुमसुम सी जो बैठीं हैं
या तो हमारी बात दिल पर लगी है
या हमारी बातो से दिल लगा बैठी है

● बेगुनाह कोई नहीं है,
सबके राज़ होते हैं..

● किसी के "छुप" जाते हैं,
तो किसी के "छप" जाते हैं..

● इतनी चाहत के बाद भी
तुझे एहसास ना हुआ,

● जरा देख तो ले,
दिल की जगह पत्थर तो नहीं...

● जाने क्या था जाने क्या है
जो मुझसे छुट रहा है

● यादें कंकर फेंक रही है
और दिल अंदर से टूट रहा है

● रहमतों की कमी नहीं
'ऊपरवाले' के ख़ज़ाने में...

● झांकना खुद की झोली में है कि
कहीं कोई 'सुराख' तो नही....

● सब अच्छे ही होते हैं..
कोई मेरे जैसा क्यों नहीं होता

● शाम आये और घर के लिए
दिल मचल उठे...!!
शाम आये और दिल के लिए
कोई घर ना हो...!!

● डूबते डूबते बचा हूं अभी
और फिर प्यास लग रही है मुझे..!!

● चार दोस्त,दो साइकिलें,
खाली जेब और पूरा शहर,

● एक खूबसूरत दौर ये भी था जिंदगी का...
किताबों में जिंदगी लटक गई है
जब से मेरी जान जान में अटक गई है

● ज़िन्दगी खूबसुरत है
पर तुझे जीना नहीं आता

● हर चीज में नशा है
पर तुझे पिना नहीं आता

● हे पगली तू खुद को क्या समझती है
तुझसे लाख गुना अच्छी तो मेरी मां है
 जो बिना बोले ही मेरी आवाज सुनती है


● हाथों की लकीरों को किस्मत कहते हैं
   मगर  मेहनत करते हैं बेचारे हाथ
और तालियां बटोरी है पंडितों की बात

● दूसरों को बर्बाद कर हंसते हैं लोग
एक समय ही ऐसा है
जिसे बर्बाद कर रोते हैं लोग

● हिम्मत नहीं तो, प्रतिष्ठा नहीं..
विरोधी नहीं, तो प्रगति नहीं..

● पाँव हौले से रख
कश्ती से उतरने वाले
जिंदगी अक्सर किनारों से ही
खिसका करती है ...

● फोन से block किया चलेगा
दिल से न होना चाहिए
प्यार एकतरफा नही चलेगा
दोनों ओर से होना चाहिए

● अभी तो दोस्ती करने का मन बनाया
तकरार करूं कैसे ?
अभी ताे खफा़ नज़र आ रही है
इकरार करूं कैसे  ?

● तुम्हारी ऑखाें से ऑखें
मिलाने का मन कर रहा है

● अब साेने का नही
तुम्हें जगाने का मन कर रहा है

● ज़िंदगी छोटी सी सही,
पर दिल हर किसी से लगाइये नहीं..!
जीवन होता बहुत सरल है, उलझाइये नहीं,

● कैसे संभालू.....!
कैसे भूला दूं...!!
अब ऐसे मझधार में छोड़ गयी हो मुझे
आखिर करूं क्या मैं...
अब तू ही बता मेरे राही

● माना कि हवाए भी अपना
रूख बदलती है
पर इंसान जितना तो नहीं

Ladki Ko Propose ke Liye  Shayari :-

Ladki Patane Ki Shayari 2020,Ladki Ko Propose ke Liye  Shayari 2020
Ladki Patane Ki Shayari 


● स्कूल की पडाई
सिर्फ़ जनरल नॉलेज बढ़ाने के लिए है
अपने जीवन में काम आए ऐसे पाठ तो
दुनिया वाले सिखाते हैं

● चला था ज़िक्र ज़माने की बेवफ़ाई का
सो आ गया है तुम्हारा ख़याल वैसे ही

● चित्रकार तुझे
 उस्ताद मानूँगा,
दर्द भी खींच
मेरी तस्वीर के साथ.......

● ऐब भी बहुत है मुझमें और खूबियां भी
 ढूंढने वाले तू सोच , तुझे क्या चाहिए......

● बढ़ती गयी दिन-ब-दिन उनकी मनमर्ज़ियाँ.... !!
फिर हुआ यूँ कि हम फिर से अजनबी हो गए .....!!

● सब तेरी मोहब्बतों की इनायत है वरना,
मैं क्या!मेरा दिल क्या!मेरी शायरी क्या!!

● लिखता हूँ खुद को खत भी तेरे ही नाम से
देता हूँ दिल को तसल्ली यूँ भी कभी-कभी

● “अब परछाईयों का भी बोझ नहीं मुझ पर
इतना सुकून है अंधेरों में "  ...!!

● क्या तुम उस वक़्त मिलने आओगे ?
साँस जब घर बदल रही होगी......

● " ख़ुदकुशी हमेशा जिस्म ही नहीं करते ,
  कुछ ख़्याल समय की चौखट पर यूँ हीं
  झूल जाया करते हैं " !!

● गणित पढ़ते पढ़ते बरसो गुजर गए
आपकी_आँखों मे झाँका तो जाना सब शून्य है...
आज फुर्सत से बैठ कर कहीं...!!
अपने ज़िन्दा होने पर रोया जाए...!!


● एक-एक कर साल गिर रहें है टूट कर,
वक़्त को ये कैसा पतझड़ लगा है..!!

● " ज़िस्म अटका रहा .... ख्वाहिशों में और ...
 ज़िंदगी हमें जीकर चलती बनी " !!

●शायरी इतनी क्या लिखी वाे नाराज़ हाे गई...
हमें Good night कहने से पहले ही साे गई...

● मिले हुए समय को ही अच्छा बनाए,
अगर अच्छे समय की राह देखोगे
तो पूरा जीवन कम पड़ेगा।

● 24 घण्टो में महबूबा आपकी बाहों में होगी..
ऐसा दावा करने वाले
हकीम की बेटी 3 दिन से फरार है

● तेरी आँखों में कुछ ऐसा नशा है...
तुम दिल में , दिल 👀 आंखों में बसा है...



● पंखी उड़ जाए उसका कोई ग़म नहीं
बस शर्त इतनी हे की
डाली हिलनी नहीं चाहिए

● मुस्कुरा कर उन का मिलना और
बिछड़ना रूठ कर..
बस यही दो लफ़्ज़ इक दिन
दास्ताँ हो जाएँगे..

● माना की सभी गलत है तेरी नज़रो में
वैसे तु भी कोई फरिश्ता तो नहीं हैं।

Post a Comment

Share My Post for Friends......
Comment for My Work