कम उम्र में अमीर कैसे बने ?


अगर आप इतने भाग्यवान नहीं हैं कि आपको अपने पूर्वजों की जमापूंजी मिली हो तो किसी भी उम्र में विशेषरूप से कम उम्र में अमीर बनने के लिए लोगों को कठिन मेहनत, प्लानिंग और सेविंग करने की जरूरत होती है | 

हालाँकि, ऐसा लग सकता है कि यंग और फेमस एंटरटेनर्स, एथलिट और बिज़नसमैन या बिज़नसवीमेन उन्हें मिले टैलेंट से, संयोग से या सरलता से अमीर बन गये हैं लेकिन उन्होंने जो कुछ भी पाया है वो उनकी कड़ी मेहनत और लगन का फल होता है | 

कई लोग सफलता के इस अलौकिक स्तर तक पहुँचने के काबिल नहीं होंगे लेकिन जो व्यक्ति अपने मन में दृढ़ निश्चय कर लेता है, वो कुछ ख़ास सिद्धांतों पर डंटकर और जरुरी समय और प्रयास लगाकर कुछ ही सालों में अमीर बन सकता है |


बड़ी मात्रा में धन कैसे कमायें कम उम्र में ?




1. अपना लक्ष्य तय करें और अपनी प्रेरणा खोजें:


 कोई भी कदम उठाने से पहले अच्छी तरह से समझ लें कि अपनी मंजिल तक पहुँचने का रास्ता आसान नहीं होता |

 आपको अपने लिए एक प्रेरणा खोजनी होगी जिससे आप मुश्किल दौर का बहादुरी से सामना कर सकें और जब सभी चीजें आपके कदम पीछे खींच रही हों तो आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती रहे |

 इसके लिए आपको सिर्फ अपने लक्ष्य के बारे में कल्पना करनी है या दूसरे शब्दों में कहें तो सोचना है कि आप कब तक अमीर बनना चाहते हैं, दस सालों में या बीस सालों में या फिर 40 की उम्र में |


●  हालाँकि खुद को अमीर बनाने के लिए ऐसा करना पूरी तरह से सही है लेकिन आप दूसरों के लिए किये गये कामों से भी खुद को मोटीवेट कर सकते हैं | उस बेहतरीन लाइफ की कल्पना करें जो आप अपने होने वाले बच्चों या जीवनसाथी को देना चाहेंगे |

●  बड़े सपने देखने में डरे नहीं | उदाहरण के लिए, अगर आप कुल 75500000 रुपए (1 मिलियन डॉलर) कमाने के लिए काम करते हैं तो आप खुद को सीमित कर सकते हैं | लेकिन फिर भी 20 मिलियन डॉलर या 100 मिलियन डॉलर का लक्ष्य बनाने में डरे नहीं |

●  इस बात का भी ध्यान रखें कि आपके लिए पैसों के क्या मायने हैं | क्या आप एक साल में एक मिलियन डॉलर (या उससे ज्यादा) कमाना चाहते हैं, अपने एक मिलियन डॉलर को संपत्ति में लगाना चाहते हैं या कुल कीमत के रूप में एक मिलियन डॉलर चाहते हैं |


2. अपने लक्ष्य को छोटे-छोटे लक्ष्यों में बाँटें:

महत्वकांक्षा रखना बहुत जरुरी होता है लेकिन वास्तव में इसे आजमाने के लिए आपको अपनी लाइफ को कार्य योजना के लिए बनाये गये शॉर्ट टर्म लक्ष्यों के अनुसार व्यवस्थित करनी पड़ेगी | 

अगर शुरुआत में आप 100000 डॉलर नहीं कमा पाते तो आप कभी भी एक मिलियन डॉलर नहीं कमा पाएंगे | अगर आप ज्यादा पैसे कमाना और कमाए हुए पैसों की सेविंग करना शुरू नहीं करते तो आप अपने लक्ष्य तक नहीं पहुँच पायेंगे | 

हमेशा शॉर्ट-टर्म गोल्स चेक करते रहें और सफलता हासिल करने के उद्देश्य को बनाये रखने के लिए अपने अगले कदम पर ध्यान दें |


● शॉर्ट-टर्म के लक्ष्यों को ज्यादा कारगर बाने के लिए उन पर नंबर अटैच कर दे | उदाहरण के लिए, कल्पना करें कि आप सेल्स में जॉब करते हैं | "ज्यादा प्रोडक्ट बेचना" एक स्पष्ट शॉर्ट-टर्म लक्ष्य नहीं है | 

इसकी बजाय, पिछले महीने के मुकाबले इस महीने 20% ज्यादा प्रोडक्ट बेचने का लक्ष्य बनायें |" इससे आप अपनी प्रोग्रेस को ट्रैक कर पाएंगे और वास्तव में अपने लक्ष्य को हासिल करने पर कॉंफिडेंट रहेंगे |


3. सफल लोगों की जिन्दगी पर स्टडी करें: 


जिन लोगों ने अपने जीवन में बेहतरीन उपलब्धियां हासिल की हैं, उसके पीछे भी कोई न कोई कारण रहा है | इस तरह के लोगों के जीवन के बारे में जानने या उनसे मिलने से आपको अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए जरुरी प्रेरणा मिल सकती है | 

आपको फेसबुक के फाउंडर मार्क ज़ुकरबर्ग या मार्क क्यूबन (जो एक सफल इन्वेस्टर हैं) जैसे लोगों पर रिसर्च करनी होगी जिससे आपको आईडिया मिल सके कि इन लोगों ने इतना सब कुछ कैसे हासिल किया |


●  इसे अलावा, आपको उन सफल लोगों की सलाह भी लेनी चाहिए जिन्हें आप व्यक्तिगत तौर पर जानते हैं | हो सकता है कि ऐसा कोई व्यक्ति आपका फैमिली मेम्बर हो या आप किसी ऐसे कम्युनिटी मेम्बर को जानते हों जिसमे बिज़नस में काफी नाम कमाया हो |

 आमतौर पर, इस तरह के सफल लोग अपनी सफलता के बारे में खुले दिल से बताते हैं और अपने अनुभव साझा करने और दूसरों को सलाह देने में दिलचस्पी रखते हैं |उनसे कई सारे सवाल करें और उनके एक्शन को दोहराने की कोशिश करें |


4. एक बेहतरीन जॉब पाने की दिशा में काम करें:


अगर आपके पास अभी तक कोई अच्छी जॉब नहीं है तो सबसे पहले जॉब ढूंढें | अमीर बनने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है कि आपके पास नियमित और बढती हुई इनकम हो 

इसके लिए, आपको जॉब करनी होगी भले ही आपके बहुत काम आएगी | हालाँकि हर व्यक्ति के लिए सही जॉब के मायने अलग-अलग होते हैं और यह आपके अलग-अलग टैलेंट और एजुकेशनल बैकग्राउंड पर निर्भर करती है |

 लेकिन किसी भी केस में, ध्यान रखें कि आप जो भी करें पूरी लगन से करें अन्यथा आप कभी सफल नहीं हो पाएंगे 


● ऐसी बड़ी कंपनी में जॉब ढूँढने की कोशिश करें जो एडवांसमेंट के लिए काफी सारे ऑफर देती हो | इस तरह की जॉब न करें जो आपकी कठिन मेहनत होने पर भी सैलरी न बढ़ती हो या प्रमोशन न देती हो |

● अपनी ड्रीम जॉब पाने की ज्यादा जानकारी के लिए ड्रीम कैरियर कैसे पाए वाला आर्टिकल पढ़ें |


5 .अपने टैलेंट का इस्तेमाल करें:

मुख्य जॉब और अपने व्यक्तिगत टैलेंट से अतिरिक्त कमाई के लिए की गयी प्लानिंग में कांट-छांट करें | जो लोग असाधारण सफलता हासिल करते हैं, वे सबसे ज्यादा एडवांटेज या पदोन्नति पाने के लिए अपने नेचुरल और सीखी हुई योग्यताओं के संयोजन का इस्तेमाल करते हैं | 

यही वो चीज़ है जिससे आप ऐसी जॉब में टिके नहीं रह पाते जो आपको चैलेंज नही करती हो या आपको अपनी दक्षता दिखाने का मौका नहीं देती |

 उदाहरण के लिए, अगर आपमें बेहतर लिखने की योग्यता है तो बेहतर होगा कि आप सेल्स जॉब छोड़कर फुल-टाइम राइटिंग पर फोकस करें |


● यंग होने का सबसे बड़ा एडवांटेज खुद यूथ ही होता है | भले ही बिज़नस में ज्यादा उम्र के लोग आपमे अनुभव की कमी होने के कारण आपसे सवाल करें फिर भी आप लम्बे समय तक काम करने के काबिल होते हैं और दुनिया की परेशानियों के लिए एक फ्रेश माइंडसेट या व्यूपॉइंट लेकर आ सकते हैं | 

वर्तमान के साथ अनुकूलता और कनेक्शन आपको कम उम्र का व्यवसायी बनाने के लिए सबसे बड़ा हथियार साबित हो सकता है |


● अगर आपमें मार्केट के अनुरूप कोई योग्यता नहीं है तो सीखें | उदाहरण के लिए, आजकल की जॉब में सबसे ज्यादा उपयोगी और डिजायरेबल स्किल कंप्यूटर कोड लिखने के बारे में जानना है |

यह ऐसी स्किल है जिसे कोई भी सीख सकता है और इससे आपका पोटेंशियल बहुत बढ़ सकता है और आप अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं | ऑनलाइन उपलब्ध फ्री कोडिंग क्लासेज सर्च करने की कोशिश करें |


6. हर व्यक्ति के साथ और हर किसी से जुड़े रहें:


बड़े आइडियाज और सफल कंपनीज आमतौर पर केवल एक व्यक्ति से नहीं डेवलप नहीं होतीं | बल्कि, ये तो बुद्धिमान लोगों के आने पर बनने वाले ग्रुप के एकसाथ आने और फ्यूचर के बारे में डिस्कस करने के फलस्वरूप विकसित हो पाती हैं |

 एकसमान काम वाले यंग लोगों और सफल उम्रदराज़ दोनों तरह के लोगों से मिलकर और उनके साथ कनेक्शन बनाकर हर मौके का फायदा उठायें |

 जब जॉब्स या व्यावसायिक प्रोजेक्ट के मौके पास आयेंगे तो कार्यवाही करने के लिए आपके पास एक सही सपोर्ट नेटवर्क होगा |


●ध्यान रखें कि आपको अपने प्रोफेशनल रिलेशनशिप को बढ़ावा और सपोर्ट देने के लिये व्यक्तिगत और सोशल नेटवर्किंग इंटरेक्शन दोनों का इस्तेमाल करना चाहिए |

 अपने उन सभी हाई स्कूल या कॉलेज के सहपाठियों के भी सम्पर्क में बने रहें जो सफल हैं या सफल होने की राह पर हैं ।


7. अपनी आमदानी बढायें: 


अपनी प्राइमरी इनकम बढाने (वर्तमान जॉब में सफलता की सीढियां चढ़कर या कोई नयी जॉब खोजकर) के अलावा आपको अतिरिक्त इनकम से सोर्सेज खोजकर अपनी कमाई को कई गुना करना होगा | 

ये सोर्सेज इन्वेस्टमेंट्स, पार्ट-टाइम जॉब्स या किसी प्रकार की इनफॉर्मल सेलिंग या कंसल्टेशन हो सकते हैं जिन्हें करने के लिए आपके पास समय हो |

 ओवरऑल देखें कि आप कहाँ से और कैसे अपनी इनकम बढ़ा सकते हैं और फिर उस प्रोसेस को समय-समय पर रिपीट करते रहें |

उदाहरण के लिए, अगर आपका अपना ऑनलाइन स्टोर है और वो सफल है तो एक और ओपन करें और उसके बाद एक और ओपन करे |


●आमदानी को बढाने के लिए इन्टरनेट सोने की खान जैसा होता है | यहाँ आप कई सारे काम खोज सकते हैं या साइड इनकम के रूप में कमाने के लिए अपने काम को ऑनलाइन बना सकते हैं | ebook बेचने और लिखने के लिए आप ब्लॉग बनाकर हर महीने अतिरिक्त कमाई कर सकते हैं।


8. कठिन परिश्रम करें:


अपने सभी काम, नेटवर्किंग और साइड-इनकम प्रोजेक्ट के एक ही समय पर करने से आपको घबराहट होगी | लेकिन अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए आपको कठिन मेहनत करनी होगी और इसके बाद आपके आस-पास के सभी लोगों को करनी होगी | 

एडवांस के लिए किसी भी प्रभावशाली मौके को फॉलो करना करना होगा,, भले ही उनसे अंत में कोई लाभ न मिले | सफलता अपने लक्ष्य की ओर नियमित रोप से बढ़ते रहने और मुश्किल समय का दृढ़ता से सामना करने से ही मिलती है |


9. ज्यादा कमाई वाली जॉब्स चुनें:


अमीर बनने का यह एक आसान तरीका हो सकता है यदि आप ज्यादा कमाई वाली को जॉब को करें ज्यादा सैलरी वाली जॉब से हम अधिक पैसा कमा सकते है और बहुत ही कम समय में अमीर बन सकते हैं ।जैसे हम एक व्यवसाय, सॉफ्टवेयर इंजीनियर ,शेयर मार्केट इन्वेस्टमेंट जैसे कार्य कर सकते हैं इनमें बहुत अधिक सैलरी होती है।

●व्यवसायी बनें
●इन्वेस्टमेंट बैंकर बनें
●सॉफ्टवेयर डेवलपर बनें
●इंजीनियर बनें


10. अपनी जमापूँजी की सेविंग और इन्वेस्टिंग करें:


हमें अपनी सैलरी की सभी कमाई को अपनी ऐसो  आराम की जिंदगी में नहीं खर्च कर देना चाहिए ।हमें उसमें से कुछ पूंजी को हमेशा सेव करके रखना चाहिए। 

जिससे उस पूंजी का हम बुरे वक्त में भी उपयोग कर सकें। हमारे पास सेविंग होती है तो हम उसे कहीं अच्छी जगह इन्वेस्ट कर सकते हैं 

इन्वेस्ट किया हुआ रुपए कंपाउंड होकर इनक्रीस होता है। जिससे हमारी इन्वेस्ट की इनकम कुछ समय में भी बहुत अधिक हो जाती है।

●अपनी सारी जमापूंजी खर्च न करें।
●अपनी सेव इनकम को इन्वेस्ट करें शेयर मार्केट में।
●इन्वेस्टिंग स्ट्रेटेजी और तकनीकों को पढ़ें।
●ज्यादा मूल्यवान संपत्ति में इन्वेस्ट करें।


चेतावनी :-


●"जल्दी अमीर बनाने" वाली स्कीम न आजमायें |

●इस आर्टिकल में दी गयी कोई भी इन्वेस्टमेंट एडवाइस केवल मार्गदर्शन है और ये प्रोफेशनल इन्वेस्टमेंट एडवाइस न लेने की सलाह नहीं देता | किसी भी चीज़ को खरीदने से पहले उस इन्वेस्टमेंट की रिस्क जानने के लिए समय लगायें |


Article Source. 

Post a Comment

Share My Post for Friends......
Comment for My Work